अब फार्म भरते समय जरुरी होगा वन टाइम रजिस्ट्रेशन, जानिए पूरी जारकारी

                             आवश्यक सूचना

                 वन टाइम रजिस्ट्रेशन अवश्य करें

अभ्यर्थियो को सूचित किया जाता है कि राजस्थान सेवा लोक आयोग द्वारा वन टाइम रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया का शुभारंभ 10 जनवरी 2022 से किया जा चुका है। आयोग द्वारा भविष्य में आयोजित परीक्षाओं के लिए वन टाइम रजिस्ट्रेशन अनिवार्य है।

अतः सभी से आग्रह है कि रिक्रूटमेंट पोर्टल पर उपलब्ध लिंक के माध्यम से अपना वन टाइम रजिस्ट्रेशन (व्ज्त्) अवश्य करें। अभी किए गए रजिस्ट्रेशन से भविष्य में भर्तियों के लिए आवेदन करते समय अपेक्षाकृत कम समय लगेगा एवं जल्दबाजी में की जाने वाली त्रुटियां भी नहीं होगी।

ऐसा देखा गया है कि भर्ती परीक्षाओं के आवेदन की अंतिम दिनांक पास आने पर सर्वर पर भार बढ़ जाता है। इसके परिणाम स्वरुप कई बार सर्वर रिस्पांस टाइम धीमा हो जाता है। आपके द्वारा समय पर किया गया रजिस्ट्रेशन आपके अमूल्य समय की बचत कर आवेदन सुनिश्चित करेगा।

        वन टाइम रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया स्टेप बाई स्टेप

क्या है वन टाइम रजिस्ट्रेशन?

वन टाइम रजिस्ट्रेशन के माध्यम से अभ्यर्थी को एक ही बार प्रोफाइल डिटेल देनी होगी। इसमें अलग-अलग भर्तीयों के लिए आवेदन करते समय अभ्यर्थी को पुनःनाम, योग्यता व अन्य वांछित जानकारियां देने की आवश्यक्ता नहीं रहेगी। आयोग द्वारा दिए गए यूनिक नंबर को दर्ज करने मात्र से अभ्यार्थी प्रोफाइल में द्वारा दर्ज विवरण का फार्म में स्वतः ही इन्द्राज हो जाएगा। प्रोफाइल को समय-समय पर अद्यतन करने की सुविद्या भी रहेगी।

  • अभ्यर्थी को अपनी एस़.एस.ओ. आइडी से लॉगइन करने के पश्चात स्टेट रिक्रूटमेंट पोर्टल पर जाना होगा।
  • स्टेट रिक्रूटमेंट पोर्टल पर अभ्यार्थी को वन टाईम रजिस्ट्रेशन पर क्लिक करना होगा।
  • वन-टाईम रजिस्ट्रेशन में अभ्यर्थी को अपना नाम, जन्म तिथी, पिता का नाम, जेन्डर एवं मोबाईल इत्यादि विवरण देने होंगे। यदि एस.एस.ओ. प्रोफाइल में पूर्व में कोइ विवरण भरा हुआ है तो वह भी यहां प्रदर्शित होगा।
  • विवरण में कोई परिर्वतन करना है तो वह रजिस्ट्रेशन विंडो पर किया जा सकता है। विवरण को अद्यतन भी किया जा सकेगा।
  • अभ्यार्थी को अपनी सेकण्डरी परीक्षा अथवा समकक्ष परीक्षा का रोल नंबर, परीक्षा वर्ष एवं बोर्ड के इन्द्राज के साथ सर्टिफिकेट अपलोड करना होगा। भविष्य में ई-वाल्ट से इसे इन्ट्रीग्रेट भी किया जा सकेगा ताकि सर्टिफिकेट अपलोड की आवश्यकता न हो।
  • अभ्यर्थी को अपना फोटो पहचान पत्र (पेन कार्ड, वोटर कार्ड, आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस में से कोई एक मय विवरण) अपलोड करना होगा।
  • अभ्यार्थी द्वारा प्रविष्ठ की गई सूचना की पुष्ठि की जाएगी।
  • सत्यापन प्रकिया सफलता पूर्वक सम्पन्न करने पर यूनिक वन टाइम रजिस्ट्रेशन संख्या जनरेट हो जाएगी।

                    वन टाइम रजिस्ट्रेशन के लाभ

  • अभ्यर्थी द्वारा आवेदन के समय नाम की वर्तनी, लिंग, जन्म दिनांक व अन्य मूल विवरणों में जो त्रुटिया हो जाती है उनकी संभवना कम होगी।
  • त्रुटियो के कारण  होने वाले वाद व परिवेदनाओं में कमी आएगी।
  • आवेदन के समय अभ्यर्थी को मुल दस्तावेजों की बार-बार आवश्यक्ता नहीं पडेगी।
  • आवेदन को पूरा भर कर सब्मिट करने में लगने वाले समय में कमी आएगी।
  • दूर-दराज के क्षेत्रों में निवासरत अभ्यर्थियों को आवेदन में सहूलियत मिलेगी।
  • त्रुटि सुधार के लिए होने वाले अभ्यर्थी के व्यय को कम किया जा सकेगा।
  • भर्ती प्रक्रिया में तेजी आएगी।
https://docs.google.com/forms/d/e/1FAIpQLSfCRoTDnz4MnSe58LlYKkpmXKR_fSEmxug0KkHDxZ4LEgGxZA/viewform?vc=0&c=0&w=1&flr=0

Leave a Comment