500+ मां पापा की शायरी हिंदी Maa Papa Shayari in Hindi

Maa Papa Shayari in Hindi [मां पापा की शायरी हिंदी]

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

अपने मौज तो माँ बाप के पैसों से पूरे होते है..
अपनी मजदूरी से तो मुसिकल से
जरूरते पूरी हो पाती हैं.

मां पापा की शायरी हिंदी Maa Papa Shayari in Hindi

उस इंसान से प्यार कभी ना करे
जो अपने माँ बाप से ऊँची आवाज में बोलता हे.
क्योंकि
जों इंसान अपने माता-पिता की
कदर नही करता भला वो
आपकी क्या करेगा.

अपने मौज तो माँ बाप के पैसों
से पूरे होते है..
अपनी मजदूरी से तो मुसिकल से
जरूरते पूरी हो पाती हैं.

उस इंसान से प्यार कभी ना करे
जो अपने माँ बाप से ऊँची आवाज
में बोलता हे.
क्योंकि
जों इंसान अपने माता-पिता की
कदर नही करता भला वो
आपकी क्या करेगा.

माँ-बाप की जिंदगी गुजर जाती है,
बेटे की लाईफ बनाने में,
तथा पुत्र फेसबुक पर पोस्ट लिखता हे
-लाइफ इज माई स्वीट वाइफ!

माँ बाप को कभी मत भूलना,
ओ मेरे दोस्त
जिस दिन ये भगवान बिछुड़ जाते हे
रुई के तकिये पे भी नीद नही आती हे

ओ खुदा मुझे इस योग्य बनाना
कि मैं मेरे माता-पिता ने जिस तरह मुझे
खुश रखा मैं भी उन्हें उसी तरह खुश रख सकू

तुम्हारा लक्ष्य पूरा हो ना हो,
अपने माँ बाप की तमन्नाओं
को ख़ाक में मत मिलाना

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

माँ बाप का की अंगुली पकड़ के राखिये
जीवन में औरों के पेर पड़ने की आवश्यकता ना होगी

खिलते हुए फूल का दामन हों आप
वाकई मे बहुत खूबसूरत होगी
ममता ममता के मन्दिर में
तो उस मन्दिर की प्यारी मूर्ति हो आप

टुकड़ो मे बिखरा हुआ किसी का दिल दिखाएगे,
कभी आना भूखे सोये बच्चो के माँ बाप से मिलाएगे

हर पीड़ा हर दुःख को वो
हसके झेल जाता है,
बच्चो पर मुसीबत आती है
तो पिता काल से भी खेल जाता हैं।

चट्टानो जैसी हिम्मत और
जज्बातो की सुनामी लिए चलता हे,
पूरा करने की हठ से ‘पिता’
दिल मे बच्चो के अरमान लिए चलता हे

जिंदगी गुजर जाती हे
अपने बच्चों का फर्ज पूरा करने में
उसी ‘पिता’ के कई सपने
बुढापे में लावारिस हो जाते हैं।

उनके चेहरे की चमक उड़ गई
अपनी औलाद की किस्मतें बनाते-बनाते,
उसी ‘पिता’ के नयनों मे आज
कई आकाशो के तारे चमक रहे थे।

गर मै रास्ता भटक जावू, तो मुझे राह दिखाना,
आपकी जरूरत मुझे हर कदम पर होगी,
नही है दूजा कोई पापा आपसे बेहतर चाहने वाला.

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

न हो तो रोती है हठे, इच्छाओं का पहाड़ होता है,
पापा है तो हमेशा बच्चों का दिल टाइगर होता है

कौन कहता है कि
बचपन वापस नहीं आता
दो घड़ी अपनीमाँके पास बैठ कर तो देखो
खुद को बच्चा महसूस ना करो तो फिर कहना

दुनिया सिर्फ हालचाल पूछती है
और फिक्र सिर्फ माँ बाप करते हैं

वह माँ ही है जिसके रहते,
जिंदगी में कोई गम नहीं होता,
दुनिया साथ दे या ना दे पर,
माँ का प्यार कभी कम नहीं होता।

माँ भले ही पढ़ी लिखी हो या ना हो
पर संसार का दुर्लभ और महत्वपूर्ण
ज्ञान हमें माँ से ही प्राप्त होता हैं

नसीब वाले हैं वो जिनके सिर पर माता पिता का हाथ होता है
हर इच्छा पूरी होती है अगर माता पिता का साथ होता है

मेरी दुनिया में इतनी जो शौहरत हैं
मेरे माता पिता की बदौलत हैं

माँ” एक ऐसे बैंक है, जहाँ आप हर भावना और दुःख जमा कर सकते है
और “पिता” एक ऐसे क्रेडिट कार्ड है, जिनके पास बैलेंस न होते हुआ भी सपना पुरे करने की कोशिश करते है

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

कहते हैं की पहला प्यार कभी भुलाया नहीं जाता
फिर पता नहीं लोग क्यू अपने माँ बाप का प्यार भूल जाते हैं

मेरे सोने के बाद अक्सर वो मेरा माथा चूमने आते है, बस मेरे लिए वो रात दिन बीना हारे मेहनत करते है
कहते है लोग नही देखा उन्होंने भगवान को, मैने तो हर दिन मेरे पापा में चारो धाम से भी पवित्र छवि देखी है

पिता की मौजूदगी सूरज की तरह होती है
सूरज गर्म जरूर होता है अगर ना हो तो अँधेरा छा जाता है

दुनिया सिर्फ हालचाल पूछती है
और फिक्र सिर्फ माँ बाप करते हैं

इस दुनिया में आपकी जो भी पहचान है
वो आपके माँ बाप की वजह से है

मेरे माता पिता मेरी दौलत मेरी शान है
उनके कदमों की धूल में ही मेरा जहान है

फूल कभी बार बार नहीं खिलते, जीवन कभी बार बार नहीं मिलता
मिलने को तो बहुत से लोग मिल जाते है, लेकिन हज़ारो गलतियों को माफ़ करने वाले माँ बाप नहीं मिलते

मां बाप तो औलाद को देखकर खुश रह लेते हैं
चाहे अपना दर्द कितना भी बड़ा हो उनका

अपने बच्चों का हर दुख वो खुद ही सह लेते है
खुदा की उस जीवित प्रतिमा को माता पिता कहते हैं

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

जिस के होने से मैं खुदको मुक्कम्मल मानता हूँ
मेरे रब के बाद मैं बस अपने माँ-बाप को जानता हूँ

जिस के होने से मैं खुदको मुक्कम्मल मानता हूँ
मेरे रब के बाद मैं बस अपने माँ-बाप को जानता हूँ

इस दुनिया में स्वार्थ के बिना सिर्फ
आपके माता पिता ही प्यार कर सकते हैं

पिता के होने से घर में कोई दुःख और गम नहीं
माँ अगर अतुलनीय है तो पिता भी कुछ कम नहीं

कौन कहता है कि बचपन वापस नहीं आता
दो घड़ी अपनी माँ के पास बैठ कर तो देखो, खुद को बच्चा महसूस ना करो तो फिर कहना

जो पहले रुलाए और फिर आपको मनाए वो है पापा
और जो आपको रुला के खुद रोने लग जाए वो है माँ

मां के पैरों में जन्नत तो पिता के पैरों में पूरा संसार है, मां स्वर्ग की देवी तो पिता स्वर्ग से भी महान है
कैसे कह दूं किसी एक को कम, दोनों के बड़े-बड़े किरदार है

इज़्ज़त भी मिलेगी, दौलत भी मिलेगी
सेवा करो…माता पिता…..की जनत भी मिलेगी

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

मां टूट जाती है जब उसके कोई औलाद नहीं होती

उसे जरूरत नहीं किसी भी पूजा और पाठ की
जो हर दिन सेवा करता हो अपने मां-बाप की

माँ बाप का दिल जीत लो कामयाब हो जाओगे
वरना सारी दुनिया जीत कर भी हार जाओगे

चाँद तारों से सजी दुनिया हो आपकी
खुशियों से भरा आंगन हो आपका
शादी का मुबारक दिन आज है आया
आपकी जिंदगी में

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

हे भगवान! बस इतना काबिल बनाना मुझे की जिस तरह मेरे माँ-बाप ने मुझे खुश रखा
मैं भी उनके बुढ़ापे में उनको खुश रख सकूँ

भुला के नींद अपनी सुलाया हमको, गिरा के आँसू अपने हँसाया हमको
दर्द कभी ना देना उन हस्तियों को, खुदा ने माँ बाप बनाया जिनको

पिता नीम के पेड़ के जैसा होता है जिसके पत्ते भले ही कड़वे हो
पर वह छाया हमेशा ठंडी देता है

खाना बना रही थी ना इसलिए गरम हूँ
ये कहकर माँ_ने अपना बुखार छुपा लिया

खाना बना रही थी ना इसलिए गरम हूँ
ये कहकर माँ_ने अपना बुखार छुपा लिया

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

इस दुनिया में मुझे उनसे बहुत प्यार मिला है
मां बाप के रूप में मुझे भगवान का अवतार मिला है

माता और पिता ऐसे होते हैं जिनके होने का अहसास कभी नहीं होता
लेकिन ना होने का एहसास बहुत होता हैं

मां के हाथों का खाने का भी अलग स्वाद है
यह स्वाद दुनिया में कहीं नहीं मिल सकता

चाहे लाख करो तुम पूजा और तीर्थ करो हजार
अगर माँ बाप को ठुकराया तो सब ही हैं बेकार

चाहे लाख करो तुम पूजा और तीर्थ करो हजार
अगर माँ बाप को ठुकराया तो सब ही हैं बेकार

टुकड़ों में बिखरा हुआ किसी का जिगर दिखाएँगे
कभी आना भूखे सोए बच्चों के माँ बाप से मिलाएँगे

सबकी जरूरत पूरी करते करते खुद को भूल जाती हूँ
खुद से मिलने वाला कोई नहीं तब माँ बहुत याद आती हो।


वह माँ ही है जिसके रहते जिंदगी में कोई गम नहीं होता
दुनिया साथ दे या ना दे पर, माँ का प्यार कभी कम नहीं होता


Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

अपने माता पिता की हमेशा इज़्ज़त करें
आप नहीं जानते के वो आपके लिए कितने बलिदानो से गुज़रे हैं

तुम दोनों के दिए हुए संस्कारों ने ही मुझको आज बनाया है
जहां भी जाऊं मेरे सर पर आप दोनों का ही साया है

इस दुनिया में मां-बाप से बढ़कर कोई और नहीं होता क्योंकि
मां-बाप अपने बच्चों की खुशी के लिए अपनी जिंदगी की सारी खुशियां कुर्बान कर देते हैं

ना उसे मजबूरियां रोक सकीं, ना ही उसे मुसीबतें रोक सकीं
आ गई ‘माँ’ जो बच्चों ने याद किया, माँ को तो मीलों की दूरियाँ भी ना रोक सकी

माता पिता के बिना दुनिया की हर चीज कोरी हैं
दुनिया का सबसे सुंदर संगीत माँ की लोरी हैं

ना ज़रूरत उसे पूजा और पाठ की
जिसने सेवा करी अपनी माँ-बाप की

जीवन में दो बार ही माँ बाप रोते हैं
जब बेटी घर छोड़े, तथा बेटा मुह मोड़े

बिता देते है एक उम्र औलाद की हर आरजू पूरी करने में
उस पिता के कई सपने बुढ़ापे में लावारिस हो जाते है

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

माँ भले ही पढ़ी लिखी हो या ना हो
पर संसार का दुर्लभ और महत्वपूर्ण ज्ञान हमें माँ से ही प्राप्त होता हैं

मेरी खुशी के खातिर आप दोनों ने अपने सपनों को ठुकराया है
अपनी जीवन भर की पूंजी से मुझे पढ़ा कर मेरा जीवन बनाया है

दुनिया के हर पेरेट्स का सिर्फ एक ही सपना होता है कि
उनके बच्चे सफलता के नए आयामों को छुएं और निरंतर प्रगति करें

पापा जब तुम साथ होते हो तो ऐसे लगता है
जैसे जिंदगी की सारी कमियां पूरी हो गई

इस दुनिया में केवल हमारे माँ बाप ही एक ऐसे इंसान है
जो चाहते है कि हमारे बच्चे हमसे भी ज्यादा कामयाब हों


इस दुनिया में केवल हमारे माँ बाप ही एक ऐसे इंसान है
जो चाहते है कि हमारे बच्चे हमसे भी ज्यादा कामयाब हों

गुलामी तो हम सिर्फ अपने माँ बाप की करते है
दुनिया के लिये तो कल भी बादशाह थे और आज भी

वो बाप है साहब छोटी खरोच की बात करते हो
जब बात बच्चों पर आती है तो वो तो बड़े बड़े घाव हुया छुपा लेते है

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

आज हम जो महके महके घूम रहे है
हकीकत में वो हमारे माता पिता के पसीने की खूशबू है

कोई कितना भी अच्छा क्यों ना हो
माँ की कमी पूरी नहीं कर सकता

दूसरे लोगों को खुश करने के लिए कभी अपने माता पिता पर गुस्से मत हों
दुसरे लोगों ने अपना सारा जीवन आपके निर्माण में नहीं लगाया

आप दोनों के बारे में जितना लिखूं उतना कम है
हमें हमेशा खुशियां देकर यह नहीं बताया आपको कितना गम है

परिस्थतियां चाहे जैसी भी हो
लेकिन माँ बाब अपने बच्चों पर कभी आंच नहीं आने देते हैं

मां तुमने मुझे जिंदगी का मतलब सिखा दिया
मुझ जैसे निकम्मे को भी तुम ने एक अच्छा इंसान बना दिया

घर आके माँ-बाप बहुत रोये अकेले में
मिट्टी के खिलौने भी सस्ते ना थे मेले में

माँ बाप का हाथ पकड़कर रखिये.
लोगो के पांव पकड़ने की जरूरत नही पडेगी

माता पिता से बढ़कर जग में कोई दयावान नहीं है
चूका पाए कोई उनका कर्ज इस दुनिया में कोई इतना धनवान नहीं है

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

गाँव में बड़े होने पर भी बच्चों को माँ-बाप डांटते है
ऐसा लगता है जैसे अपनापन और खुशियाँ बांटते है

मैंने भी पूछा भगवान से, क्या है स्वर्ग का पता
उसने मुझे अपनी गोद से उठा कर माँ की बाहों में सुला दि

सच्चा प्यार केवल मां-बाप से ही सीखा जा सकता है
दुनिया तो फरेबी है बस दिखावा करना जानती है

“नोटों से तो बस जरूरते पूरी होती हैं
मजा तो माँ से मांगे एक रूपये के सिक्के में था

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

कमी तो बहुत है मुझ में लेकिन मां के सामने जाते ही मां मेरी कमियों को सब को खत्म कर देती है

अपनी नींदों को भुला कर सुलाया हमको, अपने आँसू गिरा कर भी हँसाया हमको
जीवन में खुद कभी ना देना उनको, ऊपर वाले ने माँ बाप बनाया जिनको

माँ-बाप के लिए क्या ‪शेर लिखूं, माँ-बाप ने ‪मुझे खुद शेर बनाया हैं

मुझे इतनी “फुर्सत” कहाँ कि मैँ तकदीर का लिखा देखुँ
बस अपनी माँ की ” मुस्कुराहट” देख कर समझ जाता हुँ की “मेरी तकदीर” बुलँद है

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

मेरी तक़दीर में एक भी गम न होता
अगर मेरी तक़दीर लिखने का हक़ मेरी माँ को होता।

खूबसूरती की इन्तहा बे-पनाह देखी
जब मुस्कुराते हुए मैंने अपनी माँ देखी

अपने माता पिता से प्रेम करें और उनके साथ प्यार से पेश आएं
नहीं तो इस बात का पछ्तावा उनके जाने के बाद होगा

जो माँ बाप की मजबूरी समझकर अपने हालात को बदलते है
वही बच्चे आगे चलकर दुनिया में बड़ा नाम करते है

मां बाबा तुम्हारे लिए जिंदगी में कुछ ऐसा कर जाऊंगा कि तुम्हें मुझ पर गर्व होगा

दुनिया में हर रिश्ता बना कर देख लिया
केवल मां-बाप के सिवा कोई अपना नहीं

याद रखना, माँ बाप उमर से नहीं
फिकर से बूढ़े होते हैं, कड़वा हैं मगर सच हैं

अपना सपना पूरा हो न हो अपने माँ बाप
के सपनों को कभी खाक में मत मिलाना !

बस इतनी सी ख्वाहिश रखता हूँ
कि मेरे मम्मी-पापा की कोई ख्वाहिश अधूरी ना रहे

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

माँ-बाप की तकलीफों को कभी नजरअंदाज मत करना
जब ये बिछड़ जाते है तो रेशम के तकिये पर भी नींद नहीं आती


मेेरी अबतक की लाइफ मे मेरी मम्मी ने मुझे केवल तभी “शाबाश बेटा” कहा हैं
जब जब मैंने घर पर कुछ तोड़ा है

अपने माता-पिता से प्यार करो
जब हम बड़े हो रहे होते हैं तो हम अक्सर भूल जाते हैं कि वे भी बूढ़े हो रहे हैं

सब कुछ मिल जाता है दुनिया में मगर याद रखना, की बस माँ-बाप नहीं मिलते
मुरझा के जो गिर जाये एक बार डाली से, ये ऐसे फुल है जो फिर नहीं खिलते

उस इंसान से दोस्ती मत करो जो अपने माता पिता से ऊँची आवाज में बात करता हैं
क्योकि जो अपने माता पिता की इज्जत नहीं कर सकता वो आपकी इज्जत कभी नहीं करेंगा

.

मेरी माँ मेरे लिए मेरी जन्नत है
और मेरे पिता मेरे लिए मेरी रेहमत

मेरी इस बात का बुरा मत मानना मेरे यार
पर माँ बाप के बिना हमारी क्या है औकात

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

जब मेरे सर पर हाथ रख दे, तो मुझे हिम्मत मिल जाती है
माँ-बाप के पैरो में ही मुझे, जन्नत मिल जाती है

कोई रोजा रखता है तो कोई उपवास रखता है
लेकिन उपर वाला उसी की सुनता है, जो अपने माता-पिता को साथ रखता है

शौक तो माँ-बाप के पैसों से पुरे होते है
अपने पैसों से तो सिर्फ जरूरतें पूरी होती है

माता पिता का काम जीवन भर का है
चाहे बच्चा कितना भी बड़ा क्यों न हो जाए

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

माता-पिता वो लोग नहीं हैं जिनसे आपने जन्म लिया है
वे वो लोग हैं, जो आप बनना चाहते हैं जब आप बड़े हो जाते हैं

भुला के नींद अपनी सुलाया हमको,
गिरा के आँसू अपने हँसाया हमको,
दर्द कभी ना देना उन हस्तियों को,
खुदा ने माँ बाप बनाया जिनको!!

टुकड़ों में बिखरा हुआ किसी का जिगर दिखाएँगे, कभी आना भूखे सोए
बच्चों के माँ बाप से मिलाएँगे

जीवन में दो बार ही माँ बाप रोते हैं, जब बेटी घर छोड़े, तथा बेटा मुह मोड़े।

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

ना जरूरत उसे पूजा और पाठ की,
जिसने सेवा की अपने मां-बाप की!!

क्या खूब जवाब था
एक बेटी का
जब उससे पूछा गया कि तुम्हारी दुनिया
कहां से शुरू होती है और कहां पर खत्म?
बेटी का जवाब था-
मां की कोख से शुरु होकर
पिता के चरणो से गुजर कर,
पति की खुशी की गलियों से होकर
बच्चों के सपनों को पूरा करने तक खत्म!!

बाप है साहब छोटी खरोच की बात करते हो जब बात बच्चों पर आती है तो वो तो बड़े बड़े घाव हुया छुपा लेते है

कमी तो बहुत है मुझे में
लेकिन माँ के सामने जाते
ही माँ मेरी सब कमियाे को
को ख़त्म कर देती है।

रुके तो चाँद जैसे है
चले तो हवाओ जैसी है
वो माँ ही है जो धुप में छाँव जैसे है।

अभी भी चलती है
जब आधी कभी गम की
तो माँ की ममता
मुझे बाहो में छुपा लेती है।

.

माता पिता का साथ उनका विश्वाश
जीवन का सच सुख है .
उनके चरणों में शीश झुके हमेंशा
यही हमारा परम धर्म है।

चाहे कितनी भी करो पूजा पाठ
करो तीर्थ या परोपकार अगर माँ -बाप
को ठुकरा दिया तो सब जायेगा बेकार।

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

चाहे कितनी भी करो पूजा पाठ
करो तीर्थ या परोपकार अगर माँ -बाप
को ठुकरा दिया तो सब जायेगा बेकार।

वोह माँ ही है जिसकी
ख़ुशी हमारी मुस्कान से है
और दुःख हमारी पीड़ा से है।

वोह माँ ही है जिसकी
ख़ुशी हमारी मुस्कान से है
और दुःख हमारी पीड़ा से है।

माता -पिता वो हस्ती है
जिसके पसीने की एक बून्द का
कर्ज भि अपनी औलाद नहीं
चूका सकती।

माँ और पिता ऐसे होते है
जिनके होने का एहसास कभी नहीं होता
लेकिन ना होने का एहसास बहुत होता है

जिनके होठो पर मुस्कान होती हैं क्रोध को
लेकर भी प्यार करती हैं. जिसके होठो पर
दुआ होती हैं. ऐसा करने वाली सिर्फ माँ होती हैं.

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

अपने माँ-बाप को कभी कोई दुःख मत देना,
क्योंकि उन्होंने पूरी जिन्दगी,
तुम्हारे लिए सिर्फ दुःख ही सहे हैं.

माँ बाप का दिल जीत लो कामयाब हो जाओगे,
वरना सारी दुनिया जीतकर भी तुम हार जाओगे

अपना सपना पूरा हो न हो अपने माँ बाप
के सपनों को कभी ख़ाक में मत मिलाना

मोहब्बत बिल्कुल शतरंज के खेल जैसी हैं
सिर्फ एक गलत चाल और सीधे शादी!!!

रूह के रिश्तों की ये गहराइयाँ तो देखिये,
चोट लगती है हमें और चिल्लाती है माँ,
हम खुशियों में माँ को भले ही भूल जायें,
पर जब मुसीबत आ जाए तो याद आती है माँ…

भगवान् का दिया हुआ,
सबसे कीमती तोहफा,
कुछ और नहीं बस मेरे पापा आप हो.

पेड़ तो अपना फल खा नही सकते इसलिए हमे देते हैं.
पर अपना पेट खाली रखकर भी मेरा पेट भरते जा रहे हैं.

इस तरह मेरे गुनाहों को धो देती हैं माँ,
जब बहुत गुस्से में होती हैं तो रो देती हैं माँ,
लफ्जो पे इसके कभी बददुआ नही होती,
बस एक माँ ही हैं जो कभी खफा नही होती…

जिसके होने से मैं खुदको,
मुक्कम्मल मानता हूँ,
मेरे रब के बाद मैं बस,
अपने माँ-बाप को जानता हूँ।

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

जिसके होने से मैं खुदको,
मुक्कम्मल मानता हूँ,
मेरे रब के बाद मैं बस,
अपने माँ-बाप को जानता हूँ।

गरीब हूँ किसी ज़रदार से नहीं मिलता,
जमीर बेच कर किसी मक्कार से नहीं मिलता,
जो हो सके तो इसको संभाल कर रखना,
ये माँ का प्यार है बाजार में नहीं मिलता।
माता पिता पर उम्दा शायरी

माँ बाप का दिल जीत लो कामयाब हो जाओगे
वरना सारी दुनिया जीत कर भी हार जाओगे

हम इतने कहा हैं काबिल
माँ के पावन चरणों को धोए
प्यारी तुम्हारी सूरत हम सबके
मन को मोह आए

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

इस दुनिया में आपकी जो भी पहचान है वो आपके माँ बाप की वजह से है..

ना उसे मजबूरियां रोक सकीं,
ना ही उसे मुसीबतें रोक सकीं,
आ गई ‘माँ’ जो बच्चों ने याद किया,
माँ को तो मीलों की दूरियाँ भी ना रोक सकी !

तकदीर लिखने वाले एक एहसान लिख दे,
मेरी मोहब्बत की तकदीर में मुस्कान लिख दे,
ना मिले ज़िन्दगी में कभी भी दर्द उसको,
चाहे उसकी किस्मत में मेरी जान लिख दे।

माँगा करेंगे अब से दुआ हिज्र-ए-यार की,
आखिर को दुश्मनी है दुआ की असर के साथ।

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

Maa Papa Shayari in Hindi (मां पापा की शायरी हिंदी)

घर की इस बार मुकमल में तलाशी लूँगा,
गम छुपा कर मेरे माँ-बाप कहाँ रखते थे

ना ज़रूरत उसे पूजा और पाठ की,
जिसने सेवा करी अपनी माँ-बाप की।

माँ बाप का दिल जीत लो कामयाब हो जाओगे,
वरना सारी दुनिया जीत कर भी हार जाओगे।


माता पिता के बिना दुनिया की हर चीज कोरी हैं,
दुनिया का सबसे सुंदर संगीत माँ की लोरी हैं

चाहे लाख करो तुम पूजा और तीर्थ करो हजार,
अगर माँ बाप को ठुकराया तो सब ही हैं बेकार।

जीवन में दो बार ही माँ बाप रोते हैं,
जब बेटी घर छोड़े तथा बेटा मुह मोड़े

सूखते ही पत्ते पेड़ को छोड़ देते हैं,
माँ-बाप के बूढ़े होते ही बच्चे रिश्ते तोड़ देते है !

मेरे लिए मेरा जहान हो तुम,
सबसे बड़ी पहचान हो तुम,
अगर माँ जमीन है तो पापा मेरे लिए,
पूरा आसमान हो तुम !

बहुत शांत देखा है मैंने उनको,
जो अपने ख्हुशियों को भुला कर,
हर खुशी मेरे उपर लुटाते है,
वो मेरे हर सपने को हकीकत करना चाहते हैं !

Leave a Comment