400+ रिशते शायरी हिंदी Rishte Shayari in Hindi

रिशते शायरी हिंदी (Rishte Shayari in Hindi) :-

रिशते शायरी हिंदी Rishte Shayari in Hindi

रोता वही है जिसने कद्र किया हो सच्चा रिश्ता को,
मतलब पे रिश्ते रखने वालो को कोई रुला नहीं सकता।

रिशते शायरी हिंदी Rishte Shayari in Hindi

तेरी लत मुझे ऐसी लगी,
कि सालों के रिश्ते भूल गये।

तीन रिश्ते तीन वक्त में ही पहचाने जा सकते हैं,
पत्नी गरीबी में औलाद बुढ़ापे में दोस्त मुसीबत में।

रिश्ते मौक़े के नहीं,
भरोसे के मोहताज होते है।

मुलाकात जरूरी है अगर रिश्ते निभाने हो वरना,
लगाकर भूल जाने से पौधा भी सुख जाता है।

हाथ में मोबाइल फोन लेकर,
कितने भी रिश्ते बना लिजीये।
लेकिन जब तक कोई हाथ न पकड़े,
रिश्तो की गर्माहट का अहसास नहीं होता।

कुछ लोग बिना रिश्तों के रिश्ते निभाते है,
लगता है वहीं लोग सच्चा दोस्त कहलाता है।

अपने सपने को आगे रखे आज के,
जमाने मे रिश्तों का कोई भरोसा नहीं।

Rishte Shayari in Hindi [रिशते शायरी हिंदी]

रिशते शायरी हिंदी Rishte Shayari in Hindi

कुछ रूठे हुए लम्हें कुछ टूटे हुए रिश्ते,
हर कदम पर काँच बन कर जख्म देते हैं।

जिंदगी में आपकी एहमियत हम आपको बता नहीं सकते,
दिल में आपकी जगह हम आपको दिखा नहीं सकते।
कुछ रिश्ते बेहद अनमोल होते हैं,
इससे ज्यादा हम आपको समझा नहीं सकते।

कभी रिश्तो को चोट लगे तो मरहम जरूर लगाना,
उन्हें बचाने के लिए जरूरत पड़े तो थप्पड़ जरुर लगाना।

दूर चले जाने से रिश्ते खत्म नहीं होते,
करीब होकर लगें दूर वो रिश्ते अपने नहीं होते।

बहुत अजीब हो गए हैं ये रिस्ते आज कल,
सब फुरसत में हैं पर वक़्त किसी के पास नहीं।

रिश्तो में गहरा प्यार उसकी जिंदगी बढ़ा देता है,
वरना दुआओं में अपनों के लिए खुशियां कोई ना मांगता।

मीलो के फासले भी क्या खूब होते है,
यकीन मानो दूर के रिश्ते दिल क़रीब होते है।

बिना ग़लती के हाथ जोड़ते,
और पैर पकड़ते देखा हैं।
रिश्तों को बचाने के लिये लोगों,
को कितना कुछ करतें देखा हैं।

Rishte Shayari in Hindi [रिशते शायरी हिंदी]

रिशते शायरी हिंदी Rishte Shayari in Hindi

बड़ी छोटी सी है ये जिंदगी,
इसमें कैसे शिकवे कैसे गिले।
कुछ रिश्ते पुराने रफ़ू किए,
कुछ ताल्लुक़ मैंने नए सिले।

रिश्ता वो नहीं होता जो दुनिया को दिखाया जाता है,
रिश्ता वह होता है,जिसे दिल से निभाया जाता है।
अपना कहने से कोई अपना नहीं होता अपना,
वो होता है जिसे दिल से अपनाया जाता है।

कुछ रिश्ते ज़िन्दगी में सैलाब लाते है,
कुछ रिश्ते ज़िन्दगी में बदलाव लाते है,,
पर कुछ रिश्ते ज़िन्दगी में एक ठहराव लाते है।

मेरे होठो पे तुम्हारा ही नाम है,
दिल के इस झरोखे में तुम्हारा ही काम है।
दुनिया बदहवास हो चुकी है तुझे ढूंढने में,
मेरे दिल के कोने में तेरा ही मकान है।

जिंदगी में कभी कभी बहुत कुछ एक साथ,
बिखर जाता है, रिश्ते भी, सपने भी और अपने भी।

मेरी जेब में जरा सा छेद क्या हो गया,
सिक्के से ज्यादा तो रिश्ते गिर गए।

हाथ छूटे भी तो रिश्ते नहीं छूटा करते,
वक़्त की शाख से लम्हे नहीं टूटा करते।

अगर शहद जैसा मीठा परिणाम चाहियें तो,
मधुमक्खियों की तरह एक रहना चाहिए,,
चाहे दोस्ती हो परिवार हो या अपना मुल्क हो।

Rishte Shayari in Hindi [रिशते शायरी हिंदी]

रिशते शायरी हिंदी Rishte Shayari in Hindi

रिश्तो को जोड़े रखने के लिए,
कभी अंधा कभी गूंगा और कभी बेहरा होना पड़ता है।

रिश्ते अगर दिल में हों तो तोड़ने से भी नहीं टूटते,
और अगर दिमाग में हों तो जोड़ने से भी नहीं जुड़ते।

पैसों से मिली खुशी कुछ समय के लिए रहती है,
लेकिन अपनों से मिली खुशी जीवन भर साथ रहती है।

फीका न पड़े कभी आपकी,
जिंदगी के रंग आप हमेशा,,
मुस्कराते रहे अपनो के संग।

कुछ रिश्तो में इन्सान अच्छा लगता है,
और कुछ इन्सानो से रिश्ता अच्छा लगता है।

वो रिश्ता कभी नहीं टूट सकता,
जिसे निभाने की चाहत दोनों तरफ से हो।

रिश्ते वो नहीं जिसमे रोज बात हो,
रिश्ते वी भी नहीं जो हरपल साथ हो।
रिश्ते तो वो होते हैं…
जिसमे कितनी भी दूरी हो,

सारी ज़िन्दगी रखा रिश्तों का भरम,
कोई अपने सिवा अपना ना मिला।

जेब में जरा सा सूराख क्या हुआ,
सिक्कों से ज्यादा रिश्ते गिर पड़े।

Rishte Shayari in Hindi [रिशते शायरी हिंदी]

रिशते शायरी हिंदी Rishte Shayari in Hindi

रिश्ते आज कल झुठ बोलने से नहीं,
बल्कि सच बोलने से टुटती हैं।

बड़े अनमोल है ये खून के रिश्ते,
इनको तू बेकार न कर।
मेरा हिस्सा भी तू लेले मेरे भाई,
घर के आंगन में दीवार न कर।

हर पल के रिश्ते का वादा हैं तुमसे,
अपनापन कुछ इतना ज्यादा हैं तुमसे।
कभी ना सोचना की भूल जाएंगे तुम्हें,
जिंदगी भर का साथ देगे ये वादा हैं तुमसे।

हर रिश्ते में विश्वास रहने दो,
जुबान पर हर वक्त मिठास रहने दो।
यही तो अंदाज़ हैं जिंदगी जिने का,
ना खुद रहो उदास ना दूसरों को रहने दो।

मशहूर होना पर मगरुर मत होना,
कामयाबी के नशे में चुर मत होना।
मिल जाए सारी कायनात आपको,
मगर इसके लिए कभी अपनो से दुर मत होना।

कुछ रिश्ते नाते आखरी सांस तक छुड़ाने से भी नहीं छूटते,
नज़रें उन मोहब्बत वाली आंखों को ढूंढ ही लेती हैं।

जरूरत नहीं जिसे हमारी,
उसका सहारा बनने जा रहे थे हम।
जिन्होंने समझा ही नहीं कभी हमें अपना,
उन्हें दिल से पराया करते जा रहे थे हम।

लिखना मुमकिन नहीं है मेरी शायरी तेरे बगैर,
तेरे होने से है मेरा रिश्ता खुद से, मैं कुछ नहीं तेरे बगैर।

Rishte Shayari in Hindi [रिशते शायरी हिंदी]

रिशते शायरी हिंदी Rishte Shayari in Hindi

कैसी अजीब दास्तां है रिश्तों की,
कभी एक सच हज़ारों झुठ पर।
भारी पड जाता है,
तो कभी एक झूठ लाखों सच पर।

क्यों है ये रिश्ते धूप की तरह,
लगते हसीन है पर है झूठ की तरह।

अब फिक्र नहीं रही रिश्तों की,
अजब सा ये जमाना है।
यहाँ हर शख्स तो पैसों,
की मोहब्बत में दिवाना है।

रिश्ते उन्हीं से निभाओ जो,
निभाने की ओकात रखते हो।
क्यूंकि जरूरी तो नहीं कि,
हर दिल काबिल-ए-वफा हो।

हमारी गलतियों से टूट ना जाना,
हमारी शरारत से कभी रूठ ना जाना।
तुम्हारी चाहत ही हमारी ज़िन्दगी है,
इस प्यारे से रिश्ते को कभी भूल ना जाना।

जब रिश्ते दिल से बनते हैं,
तो वो कभी खत्म नहीं होते।
पर दिमाग से बनाये गए,
रिश्तों की उम्र ज्यादा लम्बी नहीं होती।

मेरे दिल ने जब भी कोई दुआ मांगी है,
उस हर दुआ मे बस तेरी ही वफ़ा मांगी है।
जिस प्यार को देख कर, जलते हैं ये दुनियां,
वाले तेरे से मुहब्बत करने की बस वो एक अदा मांगी है।

मुसीबत में काम आएं जो वो रिश्ते सच्चे होते हैं,
जो देखें तोल कर रिश्ते अक्ल के कच्चे होते हैं।
जो पैसे पास हों अपने तो रिश्ते खास हो जाएं,
प्रेम की बात मत पूछो ये धागे कच्चे होते हैं।

जहां गुंज़ाइशें हैं वहीं हर रिश्ता ठहरता है,
आज़माइशें अक्सर रिश्ते तोड़ देती है।

Rishte Shayari in Hindi [रिशते शायरी हिंदी]

रिशते शायरी हिंदी Rishte Shayari in Hindi

जहां गुंज़ाइशें हैं वहीं हर रिश्ता ठहरता है,
आज़माइशें अक्सर रिश्ते तोड़ देती है।

कुछ रिश्ते जिंदगी बदल देते है,
मिले तब भी ना मिले तब भी।

जेब में जरा सा सूराख क्या हुआ,
सिक्कों से ज्यादा रिश्ते गिर पड़े।

कुछ रिश्ते उम्र भर अगर
बेनाम रहें तो अच्छा है,
आँखों आँखों में ही कुछ
पैगाम रहे तो अच्छा है।

आशाएं ऐसी हों जो मंज़िल तक ले जाएं,
मंज़िल ऐसी हो जो जीवन जीना सिखा दे,
जीवन ऐसा हो जो रिश्तों की कदर करे,
और रिश्ते ऐसे हों जो याद करने को मज़बूर कर दें।

बड़े अनमोल है ये खून के रिश्ते,
इनको तू बेकार न कर,
मेरा हिस्सा भी तू लेले मेरे भाई,
घर के आंगन में दीवार न कर।

कुछ रिश्ते ऊपर वाला बनाता है,
कुछ रिस्ते लोग बनाते हैं,
वो लोग बहुत ही खास होते हैं,
जो बिना रिश्ते के रिश्ता निभाते हैं।

मसरूफ रहने का अंदाज़
तुम्हे तन्हा न कर दे दोस्त,
रिस्ते फुरसत के नहीं
तबज्जो के मोहताज़ होते हैं।

Rishte Shayari in Hindi [रिशते शायरी हिंदी]

रिशते शायरी हिंदी Rishte Shayari in Hindi

अगर रिश्तों को बचाने की जरूरत पड़े,

तो समझ लो कि वो रिश्ता कब का टूट चूका है।

रिश्ते में दुनियां तो आती जाती रहती हैं।
फिर भी दोस्ती दिलो को मिला देती हैं।
वो दस्ती ही क्या जिसमे नाराजगी ना हो।
पर सच्ची दोस्ती दोस्तों को मना ही लेती हैं।

अगर रिश्तों में हो तल्खी तो चुप हो बैठना बेहतर,
गड़े मुर्दे उखाड़ोगे तो बदबू फैल जायेगी।

जिंदगी में आपकी एहमियत हम आपको बता नहीं सकते।
दिल में आपकी जगह हम आपको दिखा नहीं सकते।
कुछ रिश्ते बेहद अनमोल होते हैं।
इससे ज्यादा हम आपको समझा नहीं सकते।

फासले इस कदर हैं आजकल रिश्तों में,
जैसे कोई घर खरीदा हो किश्तों में।

अ़शक उनकी आँखों के करीब होते हैं।
रिश्ते दर्द के जिसको होते हैं।
दौलत अपने दिल की लुटा दी है जिसने।
कोई कहते हैं कि वो गरीब होते हैं।

कुछ ऐसे हो गए हैं इस दौर के रिश्ते,
जो आवाज तुम ना दो तो बोलते वो भी नहीं।

कच्ची नहीं पक्की हैं ये दोस्ती।
रिश्ते से नहीं प्यार से बनती हैं ये दोस्ती।
भाई=बहन के प्यार की जीवन भर की हैं ये दोस्ती।

Rishte Shayari in Hindi [रिशते शायरी हिंदी]

रिशते शायरी हिंदी Rishte Shayari in Hindi

रिश्ता होने से रिश्ता नहीं बनता
रिश्ता निभाने से रिश्ता बनता है

मुस्कुराहट का कोई मोल नहीं होता।
रिश्ते का कोई तोल नहीं होता।
इंसान तो मिल जाते है हमें हर मोर पर।
लेकिन हर कोई आप कि तरह अनमोल नहीं होता।

मजबूरियों से लड़कर रिश्तों को समेटा है,
कौन कहता है मुझे रिश्तें निभाने नहीं आते।

रिश्ते आज कल झुठ बोलने से नहीं
बल्कि सच बोलने से टुटती हैं।

जेब में जरा सा सूराख क्या हुआ,
सिक्कों से ज्यादा रिश्ते गिर पड़े।

जब रिश्ता नया होता है
तो लोग बात करने का बहाना
ढ़ुढ़ते है और जब वही रिश्ता
पुराना हो जाता है
तो लोग दूर होने का बहाना ढूढ़ते है

तेरी आंखों में मुझे रिंद बना डाला,
होंथ तेरे महकाना है पैसेने से भरा प्याला,
पीने वाले जो भी देखे खुद बेहक जाए,
तेरी आंखों ने जाने क्या जादू कर डाला।

लगे ना नज़र इस रिश्ते को जमाने की,
पड़े ना जरुरत कभी एक दूसरे को मनाने की,
आप ना छोड़ना मेरे साथ वरना,
तमन्ना ना रहेगी फिर दोस्त बनाने की,

कोई रिश्ता जब खामोसी से टूटता है तो
साथ में कोई न कोई एक शक़्स भी टूट जाता है

Rishte Shayari in Hindi [रिशते शायरी हिंदी]

रिशते शायरी हिंदी Rishte Shayari in Hindi

हर पल के रिश्ते का वादा हैं तुमसे।
अपनापन कुछ इतना ज्यादा हैं तुमसे ।
कभी ना सोचना की भूल जाएंगे तुम्हें ।
जिंदगी भर का साथ देगे ये वादा हैं तुमसे।

तुम्हारी फिक्र करनेके लिए
हमारा रिश्ता होना जरूरी तो नही
एहसास की ही तो बात है
तुम्हारी इजाजत भी जरूरी नही

वहम से भी अक्सर खत्म हो जाते हैं कुछ रिश्ते
कसूर हर बार गल्तियों का ही नही होता।

आज फिर ए तन्हाई लग जा गले
के तुझसे लिपट के रोने का बहुत दिल है
एक तू ही तो है हमसाया जिंदगी का मेरी
वरना यहां तो हर रिश्ता, मेरी रूह का कातिल है

रिश्ते में प्यार की मिठास रहे।
एक ना मिटने वाला एहसास रहे।
कहने को छोटी सी हैं ज़िन्दगी।
लम्बी हो जाए अगर अपनो का साथ रहे।

मशहूर होना पर मगरुर मत होना।
कामयाबी के नशे में चुर मत होना।
मिल जाए सारी कायनात आपको।
मगर इसके लिए कभी अपनो से दुर मत होना।

मशरूफ रहने का अंदाज़ तुम्हें तनहा ना कर दे ग़ालिब,
रिश्ते फुर्सत के नहीं तवज्जो के मोहताज़ होते हैं।

जब भी हो थोड़ी फुरसत मन
की बात कह दीजिये,
बहुत ख़ामोश रिश्ते ज़्यादा
दिनों तक ज़िंदा नहीं रहते।

Rishte Shayari in Hindi [रिशते शायरी हिंदी]

रिशते शायरी हिंदी Rishte Shayari in Hindi

मुलाकातें बहुत जरूरी हैं अगर रिश्ते निभाने हैं,
लगाकर भूल जाने से तो पौधे भी सूख जाते हैं।

छुपे-छुपे से रहते हैं सरेआम नही हुआ करते,
कुछ रिश्ते जो एहसास होते हैं बेनाम हुआ करते।

शब्द उतने ही बाहर निकलने चाहिए।
जिन्हें वापस भी लेना परे तो खुद।
को तकलीफ ना हो।

किसी को नजरों में न बसाओ।
क्योंकि नजरों में सिर्फ सपने बसते हैं।
बसाना ही हैं तो दिल में बसाओ।
क्योंकि दिल में सिर्फ अपने बसते हैं।

एक मैं हूँ जो समझ नहीं सका खुद को आज तक।
और एक ये दुनिया वाले हैं जो ना।
जाने क्या क्या समझ लेते हैं।

तुझे तो मिल गये होंगे।
कई नये साथी लेकिन।
मुझे आज भी हर मोड़ पर।
तेरी कमी महसूस होती हैं।

किसी भी रिश्ते की सिलाई।
अगर भावनाओ से हुई हैं तो टुटना मुश्किल है।
और अगर स्वाथं से हुई हैं तो टिकना मुश्किल है।

दिल-से निकली बात दिल को छू जाती हैं।
ये-अक्सर अनोखी बात रह जाती हैं।
कुछ लोग दोस्ती के मायने बदल देते हैं।
पर किसी कि दोस्ती से दुनियां बदल जाती हैं।

Rishte Shayari in Hindi [रिशते शायरी हिंदी]

रिशते शायरी हिंदी Rishte Shayari in Hindi

रिश्ते में ख़ुशी तो पैदल साथ चलने से भी होती है !!
सिर्फ़ बड़ी गाड़ी से रिश्ते महफ़ूज नही होते !!

ख्वाहिश सबकी है कि रिश्ते सुधारें !!
पर चाहत सबकी ये है कि शुरुआत उधर से हो !!

ज़िन्दगी में रिश्ते बनाने की कोशिश न करो !!
कोशिश करो कि रिश्तों में ज़िन्दगी बनी रहे !!

कुछ लोग रिश्ते मुस्कुराकर निभा जाते हैं !!
हम उनमें से हैं जो गम में भी साथ नहीं निभा पाते हैं !

हाथ छूटे भी तो रिश्ते नहीं छूटा करते !!
वक्त की शाख से लम्हे नहीं टूटा करते !!

रिश्तों की कद्र वहा होती हैं !!
जहाँ आदमीं की औकात शुरू होती है !!

हर रिश्ते में एक दीवाना जरूर होता है !!
जिसे प्यार नहीं इश्क हुआ होता है !!

रिश्तों के लिए वक़्त निकाला जाता है !!
वक़्त निकालने के लिए रिश्ते नहीं बनाए जाते !!

Rishte Shayari in Hindi [रिशते शायरी हिंदी]

रिशते शायरी हिंदी Rishte Shayari in Hindi

कुछ रिश्ते अधूरे ही अच्छे लगते है !!
पूरे हो जाने से उनकी एहमियत कम हो जाती है !!

वा में सुनी हुई बातों पर यकीन नहीं करें !!
कान के कच्चे लोग अक्सर अच्छे रिश्ते खो देते है !!

मीलो के फासले भी क्या खूब होते है !!
यकीन मानो दूर के रिश्ते दिल क़रीब होते है !!

मीलो के फासले भी क्या खूब होते है !!
यकीन मानो दूर के रिश्ते दिल क़रीब होते है !!

मीलो के फासले भी क्या खूब होते है !!
यकीन मानो दूर के रिश्ते दिल क़रीब होते है !!

वक्त तकलीफ़ नहीं देता,
वक्त पर साथ छोड़ने वाले तकलीफ़ देते हैं..!!

बदलते रिश्ते और बदलते लोग बहुत देखे हैं,
ताउम्र काश कोई ठहर कर भी‌ देखता..!!

Rishte Shayari in Hindi [रिशते शायरी हिंदी]

रिशते शायरी हिंदी Rishte Shayari in Hindi

वो रिश्ता कभी नहीं टूट सकता,
जिसे निभाने की चाहत दोनों तरफ से हो..!!

मैने भी बदल दिया है जि़न्‍दगी का उसूल,
अब जो याद करेगा सिर्फ वही याद रहेगा..!!

खाली जाम लिये बैठे हो उन आँखों कि बात करो,
रात बहुत हैं प्यास बहुत हैं बरसातो कि बात करो,

भरोसा नहीं है क्या मुझ पर बस,
यही बोल कर लोग धोखा दे जाते हैं..!!

मतलब के रिश्ते का खूब मतलब समझाया मुझको,
अपना मतलब पूरा करने के लिए अपनाया मुझको..!

मैने भी बदल दिया है जि़न्‍दगी का उसूल,
अब जो याद करेगा सिर्फ वही याद रहेगा..!

जब रिश्ते बदलते हैं तो समझो कि,
जिंदगी में आगे बढ़ने का समय आ गया है..!!

सख़्त हाथों से भी छूट जाती हैं कभी उंगलियाँ,
रिश्ते ज़ोर से नहीं तमीज़ से थामे जाते हैं..!!

Rishte Shayari in Hindi [रिशते शायरी हिंदी]

रिशते शायरी हिंदी Rishte Shayari in Hindi

बदला है अब रिश्तों में, प्रेम नहीं अब किश्तों में,
जो निभाते हैं वो फरिश्ते हैं, बड़ा लोचा है भाई बदलते रिश्ते में..!

बदलते लोग बदलते रिश्ते और बदलता मौसम,
चाहे दिखाई ना दे मगर महसूस जरूर होते हैं..!!

जब रिश्ते जरुरत के हो,
तो याद भी जरुरत के वक़्त ही आते है |
बोहोत अजीब से हो गए है
ये रिश्ते आजकल,
सब फुरसत में है पर
वक़्त किसी के पास नही ।
कुछ इस कदर खूबसूरत रिश्ते टूट जाया करते है,
दिल भर जाता है तो लोग रुठ जाया करते है
रिश्ते कभी अपने आप नही टूटते ,
रवैय्या उन्हें तोड़ देता है ।

.

रिश्ता वो नही होता,
जो दुनिया को दिखाया जाता है
,रिश्ता वो होता हूं ,
जिसे दिल से निभाया जाता है ।
करीब इतना रहो की, रिश्तो में प्यार रहे
दूर इतना रहो की, आने का इन्तजार रहे ।

Rishte Shayari in Hindi [रिशते शायरी हिंदी]

रिशते शायरी हिंदी Rishte Shayari in Hindi
वो रिश्ते बोहोत कमजोर होते है ,
जो किसी की बातों में आकर टूट जाते है ।
दो पल के गुस्से से…
प्यार भरा रिश्ता बिखर जाता है ।
होश जब आता है तो…
वक़्त निकल जाता है
छुपे छुपे रहते है… सरेआम नही होते ।
कुछ रिश्ते बस एहसास होते है
उनके नाम नही होते ।

मत कर यकीन यहाँ
पलभर की मुलाकात पर
जरुरत ना हो तो लोग यहाँ
सालों के रिश्तें भूल जाते है

मेरी जेब में ज़रा सा छेद क्या हो गया
सिक्के से ज्यादा तो रिश्ते गिर गए

प्यार इंसान से करो उसकी आदत से नहीं
रुठो उनकी बातों से मगर उनसे नहीं
भूलो उनकी गलतियाँ पर उन्हें नहीं
क्यों की रिश्तों से बढकर कुछ भी नहीं

Rishte Shayari in Hindi [रिशते शायरी हिंदी]

रिशते शायरी हिंदी Rishte Shayari in Hindi

कोई टूटे तो उसे सजाना सीखो
कोई रूठे तो उसे मनाना सीखो
रिश्ते तो मिलते हैं मुक़द्दर से बस
उन्हें ख़ूबसूरती से निभाना सीखो

एक मिनट लगता हैं,
रिशतो का मज़ाक उड़ाने मे,
और सारी उम्र बीत जाती है,
एक रिश्ते को बनाने में,

नहीं कोई बात होती फिर भी बात होती है,
कुछ रिश्तो कि ऐसे भी सुरुआत होती है,
रिश्ता सिर्फ वो नहीं जो गम या खुशी मे साथ दे,
रिश्ता तो वो है जो अपनेपन का एहसास दे,

कोई किसी का नहीं इस दुनियां में,
मैने पैसो से रिश्ते को बनते देखा है,
मैले हो जाते हैं रिश्ते भी लिवासो की
तरह है,कभी कभी इनको भी मुहब्ब,
से धोया कीजिए,

रिश्ते में दुनियां तो आती जाती रहती है,
फिर भी दोस्ती दिलो को मिला देती हैं,
वो दस्ती ही क्या जिसमे नाराजगी ना हो,
पर सच्ची दोस्ती दोस्तों को मना ही लेती है,

किसने कहा रिश्ते मुफ्त मिलते हैं,
मुफ्त तो हवा भी नहीं मिलती,
एक साँस भी तब आती है,
जब एक साँस छोड़ी जाती है,

अ़शक उनकी आँखों के करीब होते है,
रिश्ते दर्द के जिसको होते है,
दौलत अपने दिल की लुटा दी है जिसन,
कोई कहते हैं कि वो गरीब होते है,

जब आप सफल या आपको सफलता मिलती है,
तो आपसे रिश्ते बनाने के लिए लोग खुद आने लगते है.

मेरी दुनिया का हर शख्स मतलबी निकला,
घर एक आईना था बस वही वफादार निकला.

Rishte Shayari in Hindi [रिशते शायरी हिंदी]

रिशते शायरी हिंदी Rishte Shayari in Hindi

मैंने लोगो को मुसीबत में बदलते देखा हैं,
पर वो परिवार ही था जो मैंने हमेशा अपने साथ खड़े देखा हैं.

कहते है की मतलब तो इंसान के चेहरे पर साफ दिख जाता है,
लेकिन हम तो बस सभी पर भरोसा करने की गलती कर बैठते है.

गलती थी मेरी, चाहने वालों पर घमंड मेरा,
पता चला है कि सबने चाहा मुझे सिर्फ अपनी जरूरत के लिए.

मतलबी लोग भी ना जाने कैसे कैसे आपने मतलब निकल लेते है,
अक्सर अपने मतलब के लिए ये खून के रिश्ते भी भुला देते है.

रहता हूँ बहका बहका तो शराबी ना समझना,
कभी किसी की यादें भी बहका दिया करती हैं !

हर किसी से उम्मीद मत रखो साहब तुम मदद के मिलने की,
क्योकि बार पराये भी बिन कहे मदद कर देते है,
और कई बार अपने पूछते तक नही है.

न कभी घमंड किया है खुदपर और न कभी करेंगे,
अरे हम तो बिना मतलब के जिए है और बिना मतलब के ही मरेंगे.

जब मिलो किसी से तो जरा दूर का रिश्ता रखना,
बहुत तङपाते है अक्सर सीने से लगाने वाले.

Rishte Shayari in Hindi [रिशते शायरी हिंदी]

रिशते शायरी हिंदी Rishte Shayari in Hindi

हर की अपना पेट भरने में लगा है साहब इस दुनिया में,
चाहे कोई अपना है चाहे कोई पराया है,
यहा कोई किसी को नही बक्श्ता है इस दुनिया में.

ना जाने उस से कैसा रिश्ता है,
दर्द कोई भी हो याद तेरी ही आती है.

मतलबी लोगो की मीठी बातें,
ये तो सिर्फ एक दिखावा है,
चाहे आप भी उन्हें आजमालो,
आपको भी धोखा मिलेगा ये मेरा दावा है.

जिंदगी में कभी बदल गई थी,
जो कभी ना बदलने की शर्त लगाई

आसमान में दिखाता है धुआं और भूमि है बंजर,
झूठे मतलबी रिश्तेदार वक्त आने पर दिल पे बोली का मारते है खंजर.

कई बार वो लोग रिश्तों की कीमत समझते हैं,
जिनका हमसे कोई लेना-देना नहीं है.

मतलबी दुनियाँ के लोग खड़े हैं हाथों में पत्थर लेकर,
मैं कहाँ तक भागु शीशे का मुकद्दर लेकर.

छोटी बातें करते हैं जो लोग,
चार पैसे में बिकते हैं जो लोग,
करते हैं नीचा दिखाने की कोशिश,
पता नहीं कहां से आते हैं ऐसे लोग.

दिल टूट सा गया है इन बदलते इंसानो से
और बेईमान लोगो से.

Leave a Comment